Welcome Friends. 
मेरे ब्लॉग में आपका हार्दिक स्वागत है 
मै आपको आसान भाषा में बताने की 
पूरी कोसिस करूँगा 

निल नदी के बारे में  सम्पूर्ण जानकारी 

निल फोटो इमेज 
https://www.earthnews95.com/2019/11/about-nile-river.html
Earth News 95
दुनिया की सबसे लम्बी नदी निल नदी है जिसकी लम्बाई 6650 किलोमीटर है निल नदी का प्राचीन नाम हापी है ये नदी अफ्रीका की सबसे बड़ी झील विक्टोरिया से निकल कर विस्तृत सहारा मरुस्थल के पूर्वी भाग को पार करती हुई उत्तर में भूमध्यसागर उतर पड़ती है भूमध्य रेखा के पास भारी

वर्सा वाले छेत्रो से निकलकर दक्षिण से उत्तर क्रम्स युगांडा इथियोपिया सूडान और मिस्र से होकर बहते हुए काफी लम्बी घाटी बनाती है निल नदी की काफी सहायक नदी भी है सफ़ेद निल और नीली निल इश्कि सबसे ज्यादा सहायक नदी है
निल फोटो इमेज 
https://www.earthnews95.com/2019/11/about-nile-river.html
Earth News 95

आज से काफी साल पहले इतिहास में बड़े बड़े नगर निल नदी के आसपास बसे हुए थे इनमे काफी नगर राजा महाराजा का भी हुआ करता था जो समय के साथ लुप्त होगये रिसर्चो की टीम से पता चला है दुनिया की सबसे प्राचीन सभ्यता निल नदी के किनारे बसी हुई थी

दुनिया की सबसे प्राचीन सभ्यता 

https://www.earthnews95.com/2019/11/about-nile-river.html
Earth News 95

दुनिया की सबसे प्राचीन सभ्यता मिस्र की सभ्यता है आसान भाषा में बताया जाये तो दुनिया का सबसे पुराणा इंसानो का नगर जिसे मिस्र की प्राचीन सभ्यता कहा जाता है ये सभ्यता कितने साल पुराणी है इस बात का सही पता आज तक हमे नहीं चला है लेकिन कहा जाता है की ये प्राचीन सभ्यता हजारो साल पुराणी है मिस्र की सभ्यता में निल नदी का बहोत बड़ा योगदान है

ये प्राचीन सभ्यता निल नदी के किनारे बड़ी हुई और फली फूली निल नदी प्राचीन मिस्र के लोगो को खाने के लिए भोजन घर बनाने के लिए सामान और भी अन्य चीज उपल्द कराती थी वैसेतो ज्यादातर मिस्र में रेगिस्तान की तरह रेत फहली हुई है लेकिन निल नदी के छेत्र काफी ज्यादा उपजाऊ है जिसमे काफी अलग अलग प्रकार की फषले उगाई

प्राचीन मिस्र फोटो इमेज 
https://www.earthnews95.com/2019/11/about-nile-river.html
Earth News 95

जासक्ति है गेहू पस्टन और कागज का पौधा पैपिरस यहां की मुख्य फसल है हर साल सितम्बर महीने में यहां का जल स्तर काफी ज्यादा बड़ जाता है जिस कारण यहां भारी बाड़ भी आजाती है सुरुवात में ये बाड़ कुछ नुक्सान भी करती है पर इस बाड़ का फायदा भी होता है ये बाड़ अपने सात काली उपजाऊ मिट्टी को लेके आती है

जो फसलों की पैदावार को दुगनी तेजी से काफी बड़ा देती है प्राचीन मिस्र के लोग बाड़ से आई इस मिट्टी को निल नदी का तोफा भी कहते है वर्तमान समय में निल नदी के बाड़ से बचने के लिए Aswan Dam बनाया गया था जिसे 1960 से 1970 के बिच बनाया गया था प्राचीन मिस्र के लोगोने अपना कैलेंडर भी निल नदी के हिसाब से बनाया हुआ था मिस्र के लोगोने कैलेंडर को 3

प्राचीन मिस्र फोटो इमेज 
https://www.earthnews95.com/2019/11/about-nile-river.html
Earth News 95

मौसम में बाटा हुआ था इश्का पहला मौसम निल नदी की बाड़ के समय तक रहता था दूसरा मौसम फसले उगने के समय तक और तीसरा जब फसले काटने का समय हो रिसर्चो ने पता किया है मिस्र के लोग निल नदी की मिट्टी से ईटें भी बनाते थे बनाते थे


अगले किसी आर्टिकल 
में हम मिस्र की सभ्यता 
के बारे मे पूरी चर्का करेंगे तो 
दोस्तों होम पेज पर जाके 
Email Subscribe जरूर करे 

धन्यवाद

‘अमेजन जंगल’ कितना बड़ा है, इसका अंदाजा आप इस से लगा सकते हैं यह दक्षिणी अमेरिका के ब्राज़ील से लेकर कोलंबिया तक फैला हुआ है About अमेज़न